जो मैंने जिया (Jo Maine Jiya)

By कमलेश्वर (Kamleshwar)

$8.51

SKU raj339
Categories ,

Description

अपनी मौलिक सूझबूझ और नज़रिये को लेकर लगातार चर्चित तथा विवादास्पद रहने वाले कमलेश्वर की बातें रोचक भी है और पाठकों को अपने साथ अतीत व भविष्य में बहा ले जाने का मादूदा भी रखती है । उम्र की एक खास दहलीज पर पैर रखते ही आदमी को अचानक बीते दिन घेरने लते है, यादों के धुंधले अक्स साफ दिखने लगते है और बेहद याद आने लगते हैँ–वक्त की पिछली गलियों, घोडों, चौराहों पर पीछे छुट गये लोगों और इन यादों के झरोखे से दिखाई देती है एक पूरी दुनिया-हलचलों, दोस्ती-दुश्मनी, आधी शताब्दी के अनेक छोटे- बड़े साहित्यिक कारनामों और इतिहास-प्रसंगों से भरी-पूरी दुनिया । ‘जो मैंने जिया’ में कमलेश्वर की इसी दुनिया का चित्रण है ।